महाशिविरात्री पर शिवजी को चढ़ाए यह पांच सामग्री अवश्य होगी धन की प्राप्ति।।

महाशिविरात्री पर शिवजी को चढ़ाए यह पांच सामग्री अवश्य होगी धन की प्राप्ति।।

महाशिवरात्रि 2018 कब है महाशिवरात्रि 2018 सावन 2018 में महाशिवरात्रि कब है महाशिवरात्रि मराठी माहिती महाशिवरात्रि पूजाविधि महाशिवरात्रि पर निबंध महाशिवरात्रि क्यों मनाई जाती है महाशिवरात्रि 2018


दोस्तों हर साल की तरह ही इस साल भी माहशिवरात्रि का पर्व जल्द ही आने वाला है तथा सभी अपने कुशल मंगल होने और धन लाभ होने की कामना करते है, लेकिन अगर आप महाशिविरात्रीपर शिव जी को यह पांच सामग्री चढ़ाते है तो आपकी मनोकामना जरूर पूर्ण होगी तथा आपको सुख शांति और समृद्धि की प्राप्ति होगी।
Mahashivratri date Mahashivratri 2019

बिल्व पत्र:

महाशिविरात्री पर शिवजी को चढ़ाए यह पांच सामग्री अवश्य होगी धन की प्राप्ति।।

भगवान आशुतोष की पूजा में अभिषेक और गोदावरी का प्रथम स्थान है। ऋषियों ने कहा है कि बेलआउट भोले-भंडारी को चढ़ाना और एक करोड़ कन्याओं के कन्यादान का परिणाम एक ही है। तीन जन्मों के पापों के नाश के लिए तीन पत्तों वाला बिल्व पत्र, जो सत्त्व-रज-तम का प्रतीक है, इस मंत्र को त्रिभुज पत्र अर्पित कर भगवान शिव को अर्पित करना चाहिए-

त्रयदान त्रिगुणाकार त्रिदेव और त्रयोदयुतम्।

त्रिगुणं पाप समहारं बिल्व पत्रं शिवार्पणम् ।।

यदि कल्याण बेल पत्र वृक्ष के हर शिवकाहा (वृक्ष) को लगाया जाए और उसके अक्षर, तो देश की कई समस्याओं सहित पर्यावरण की समस्या को बहुत हद तक भुनाया जा सकता है।

भांग:

महाशिविरात्री पर शिवजी को चढ़ाए यह पांच सामग्री अवश्य होगी धन की प्राप्ति।।

भगवान शिव ने हलाहल विष का पान किया है। इस जहर के उपचार में इस्तेमाल की जाने वाली जड़ी-बूटियों की विविधता देवताओं द्वारा की गई है। भांग भी उनमें से एक है। इसलिए, भगवान शिव को भंग बहुत प्रिय है। शिवरात्रि के अवसर पर भांग या भांग के पत्तों को पीसकर दूध या पानी में घोलकर भगवान शिव का अभिषेक करने से रोग दोषों से मुक्ति मिलती है।2018 में महाशिवरात्रि कब है महाशिवरात्रि क्यों मनाई जाती है महाशिवरात्रि 2018।

धतूरा:

महाशिविरात्री पर शिवजी को चढ़ाए यह पांच सामग्री अवश्य होगी धन की प्राप्ति।।

भांग की तरह धतूरा भी एक जड़ी बूटी है। धतूरा का उपयोग भगवान शिव के सिर पर प्रभाव को हटाने के लिए भी किया गया था, इसलिए शिवजी को धतूरे से भी प्यार था। 2019 में महाशिवरात्रि कब है महाशिवरात्रि क्यों मनाई जाती है। महाशिवरात्रि 2019
महाशिवरात्रि के अवसर पर शिवलिंग पर धतूरा चढ़ाएं। इससे दुश्मनों का डर खत्म होता है, साथ ही धन का विकास भी होता है।

गंगाजल:

महाशिविरात्री पर शिवजी को चढ़ाए यह पांच सामग्री अवश्य होगी धन की प्राप्ति।।

गंगा भगवान विष्णु के चरणों से उतरी है और भगवान शिव के शैव से पृथ्वी पर अवतरित हुई है, इसलिए गंगा सभी नदियों में सबसे पवित्र है। भगवान शिव का गंगा जल से अभिषेक करने से मानसिक शांति और प्रसन्नता मिलती है। इसी के साथ महाशिविरात्री जे दिन गंगा जल का अभिषेक करने से ग्रह क्लेश और आर्थिक तंगी भी दूर होती है।महाशिवरात्रि 2019 कब है महाशिवरात्रि 2019 सावन

गन्ने का रस:

महाशिविरात्री पर शिवजी को चढ़ाए यह पांच सामग्री अवश्य होगी धन की प्राप्ति।।

गन्ना जीवन में मिठास और खुशी का प्रतीक माना जाता है। इसे शास्त्रों द्वारा पवित्र माना गया है। प्रेम के देवता, कामदेव का धनुष गन्ने से बना है। देवप्रबोधिनी एकादशी के दिन, भगवान गणेश की पूजा तुलसी की पूजा करके की जाती है। गन्ने के रस से, शिवलिंग का अभिषेक करने से अनाज तथा धान प्राप्त होता है। इस कारण महाशिविरात्री पर शिव जी का गन्ने के रस से अभिषेक करना बहुतही शुभ होता है।महाशिवरात्रि मराठी माहिती महाशिवरात्रि पूजाविधि महाशिवरात्रि पर निबंध।

You Might Also Like

0 comments